कोरोना संक्रमण से लड़ रहे बिहार के लिए खुशी की एक छोटी-सी किरण दिखी है। राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में कमी आई है और स्वास्थ्य विभाग के अनुसार डबलिंग रेट कम हुई है। राजाय में कल कोरोना के छह नए मरीज पाए गए तो वहीं मंगलवार को भी मात्र सात नए मरीज ही पाए गए हैं। वहीं मरीजों के स्वस्थ होने की संख्या में भी तेजी से वृद्धि हुई है। राज्य में 542 में से अबतक 212 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं तो वहीं अबतक चार मरीजों की मौत हुई है।

बिहार के स्वास्थ्य सचिव संजय कुमार ने ट्वीट कर एक डाटा जारी किया है जिसमें 15 अप्रैल से पांच मई तक के आंकड़े हैं। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक राज्य में पहले सात दिनों में कोरोना के मरीज दोगुने हो रहे थे। उसके बाद यह रफ्तार तेज हुई और चार दिनों में ही केस डबल होने लगे। 26 अप्रैल से 5 मई तक के आंकड़ों के मुताबिक राज्य में अब 9 दिन में केस डबल हो रहे हैं। सोमवार को 12 और मंगलवार को 7 केस सामने आए। बिहार के लिए यह अच्छी खबर है।

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बुधवार को ट्वीट कर जानकारी दी कि बिहार में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के स्वस्थ होने की रफ्तार में तेजी आई है और ये आंकड़ा अब 212 हो गया है। राज्य का रिकवरी रेट 29.47 है। पिछले 24 घंटे में 28 लोग कोरोना से स्वस्थ हुए हैं। तेजी से रिकवर करने वालों में नालंदा और सीवान सबसे आगे हैं। नालंदा में 36 में से 30 और सीवान में 32 में से 25 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here