नालंदा जिले के राजगीर थाना क्षेत्र के पिलखी स्थित देना बैंक में पिछले 4 माह पूर्व ढाई लाख रुपए लूटे गए थे. इस बैंक लूटकांड मामले के आरोपी रहे दो शातिर बैंक लुटेरों को पुलिस ने झारखंड के रांची के बरियातू से गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार बैंक लुटेरों में से एक केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) की पार्टी लोजपा (LJP) के नेता का बेटा है. उसकी पहचान नालंदा के लोजपा जिलाध्यक्ष राजू पासवान के बेटे शशि पासवान के रूप में की गई है. शशि पासवान पूर्व में भी बिहारशरीफ के पॉश इलाके सोहसराय स्थित केनरा बैंक लूटकांड में भी शामिल था.

बता दें कि 2 साल पहले इस बैंक से करीब 36 लाख रुपए लूट हुई थी.उस दौरान पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया था, जिसके बाद वह जमानत पर बाहर निकला हुआ था. लोजपा जिलाध्यक्ष के बेटे के ऊपर बैंक लूट की कई घटनाओं में शामिल होने का आरोप है. उसने चार महीने पहले राजगीर के पिलखी स्थित देना बैंक शाखा में भी लूट कांड को अंजाम दिया था. इससे पहले एकंगरसराय, लहेरी में भी हुई बैंक लूट की घटनाओं में उसका नाम सामने आया था. इन वारदातों के बाद वह फरार था और पुलिस सरगर्मी से उसकी तलाश कर रही थी.

शशि पासवान देना बैंक लूट कांड के बाद बिहार छोड़कर झारखंड भाग गया था. लंबी छानबीन के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की. वहीं, दूसरा गिरफ्तार बैंक लुटेरा बिहारशरीफ के प्रभात कुमार सिंह का पुत्र गोल्डी है, जो शशि का दाहिना हाथ बताया जाता है.


नालंदा एसपी नीलेश कुमार के मुताबिक शशि पासवान बैंक लूट की कई घटनाओं में शामिल रहा है. सोहसराय के केनरा बैंक, राजगीर के देना बैंक के साथ-साथ लहेरी थाना क्षेत्र में एलआईसी एजेंट से दो लाख से अधिक लूटकांड में भी उसका नाम आया था. वहीं, एकंगरसराय में दक्षिण मध्य ग्रामीण बैंक के कर्मी से 91 हजार की लूट, दीप नगर में फ्लिपकार्ड कर्मी से लाखों की लूट समेत समस्तीपुर व दरभंगा जिले में भी कई बैंक लूटकांड में वह शामिल था. उसका अन्य साथी भी पूर्व में गिरफ्तार किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here