आरजेडी दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को बिहार लाने के लिए 50 ट्रेन का खर्च उठायेगी। इसकी घोषणा नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने की है। फेसबुक पोस्ट में आरजेडी नेता ने कहा कि राष्ट्रीय जनता दल बिहार सरकार को अपनी तरफ़ से 50 ट्रेन देने को तैयार है। हम ग़रीब बिहारी मज़दूर भाईयों की तरफ़ से इन 50 रेलगाड़ियों का किराया असमर्थ बिहार सरकार को देंगे। सरकार आगामी 5 दिनों में ट्रेनों का बंदोबस्त करें, पार्टी इसका किराया तुरंत सरकार के खाते में ट्रांसफ़र करेगी।

गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देश अनुसार राज्य सरकार को ही ट्रेनों का प्रबंध करना है इसलिए हम राज्य सरकार से आग्रह करते है कि वह मज़दूर भाईयों से किराया नहीं ले क्योंकि मुख्य विपक्षी पार्टी राजद शुरुआती 50 ट्रेनों का किराया वहन करने के लिए एकदम तैयार है। राजद उनके किराए की राशि राज्य सरकार को चेक के माध्यम से जब सरकार कहें, सौंप देगी।

आदरणीय नीतीश कुमार जी, ग़रीब मज़दूरों की तरफ़ से 50 ट्रेनों का किराया राजद वहन करने के लिए एकदम तैयार है क्योंकि ड़बल इंजन सरकार सक्षम नहीं है। बहुत हो चुका संसाधनों की कमी का बहाना और हवाला। कृपया अब अविलंब ट्रेनों का प्रबन्ध करवा यथाशीघ्र अप्रवासी भाईयों को वापस लेकर आइए।

सुशील मोदी जी- कुल जोड़ बता दिजीए, तुरंत चेक भिजवा दिया जाएगा। वैसे भी आपको खाता-बही देखने का शौक़ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here